शनिवार, अप्रैल 23

बधाई हो दोस्त तुम्हे जन्मदिन की.


चमकना है अभी बाकी,
 चोंकाना अभी है बाकी
बधाई हो दोस्त तुम्हे,
जन्मदिन की,
चहचहाते रहो युही तुम,
बहुत कठिनाइयों से लड़ना 
अभी है बाकी,
बस नहीं चलता हमारा
रोक सके जो 
किसी पत्थर को राह में आने से,
तुम्हारा बस हर पत्थर से 
सफलता की कहानी 
लिखना अभी बाकी है,
बधाई हो दोस्त तुम्हे 
जन्मदिन की.
G.J.
for my two friends
ankit mathur and puja ........may god bless you a rocking life..

3 टिप्‍पणियां:

अमित श्रीवास्तव ने कहा…

nice lines...

Gunjan ने कहा…

thank you amit ji

SAJAN.AAWARA ने कहा…

KAVITA ACHI HAI, NAHI BAHUT ACHI HAI. . . . . JAI HIND JAI BHARAT