बुधवार, अगस्त 24

मैंने कब कहा उनसे कोई गिला नहीं है!
मगर बात कुछ ऐसी है  "गुंजन",
जब-जब देखा आँखों में उनकी,
सच का सैलाब नजर आ गया!
--------------------------G.J.

कोई टिप्पणी नहीं: